आर्मस्ट्रोंग सिद्धान्त (Armstrong Theory) || Chemistry Ncert Solution || Armstrong Sidhant || Theory Of Armstrong || Ncert Solution || Chemistry Guru | Rclipse - Education Point

आर्मस्ट्रोंग सिद्धान्त (Armstrong Theory) || Chemistry Ncert Solution || Armstrong Sidhant || Theory Of Armstrong || Ncert Solution || Chemistry Guru


आर्मस्ट्रोंग सिद्धान्त
(Armstrong Theory)
Ncert Solution
(Chemistry)

आर्मस्ट्रोंग सिद्धान्त :-
Armstrong Theory :-

              इसे क्विनोनाॅइड सिद्धान्त भी कहते है। यदि कोई O- अथवा P- क्विनोनाॅइड संरचना दर्शाता है तो यौगिक रंगीन होगा अन्यथा रंगहीन।
अतः संरचना के आधार पर कह सकते है कि

1. बैंजीन रंगहीन होगा जबकि बैन्जोक्विनाॅन रंगीन यौगिक होगा।

2. फीनाॅल्फ्थेनीन का क्विनोनाॅइड रूप रंगीन होता है जबकि बैन्जीनाॅइड संरचना रंगहीन होती है।


             इमिनोक्विनाॅन तथा डाइमिनोक्विनाॅन में क्विनोनाॅइड संरचना होते हुए भी रंगहीन है या डाइएसिटिल या फ्लवीन या एजोबैंजीन आदि भी क्विनोनाॅईड संरचना होते हुए भी रंगहीन होते है। अतः यह सिद्धान्त व्याख्या करने में असफल है।

Rclipse Education Point

This Website Is Developed By Rclipse.Com For The Students Which Who Want To Learn Something Online.