Rclipse - Education Point

राजस्थान में ऊनी वस्त्र उद्योग (Woolen Textile Industry in Rajasthan) || Rajasthan Me Uni Vastra Udhog || SSC || IBPS || RPSC Notes


राजस्थान में ऊनी वस्त्र उद्योग
 (Woolen Textile Industry in Rajasthan)



राजस्थान में ऊन का व्यवसाय बहुत पुराना एवं महत्वपूर्ण है। यहाँ पश्चिमी राजस्थान में भेड़ पाली जाती हैं। भारत की 25% भेड़ (.90 लाख ) राजस्थान में ही पाली जाती हैं जिनसे लगभग 126.77 लाख किग्रा ऊन प्राप्त होती है। ऊन से कम्बल, नमदे, आसन, स्वेटर, जरसी, घुग्घी, घोड़ों तथा ऊँटों की जीन, मोटा ऊनी कपड़ा, शाल, दुसाला आदि बनाए जाते हैं।

ऊन उद्योग की प्रमुख इकाइयाँ निम्न हैं

(1) स्टेट वूलन मिल्स, बीकानेर
(ii) वर्टेड स्पिनिंग मिल्स, चूरू
(iii) विदेशी आयातनिर्यात संस्थान, कोटा
(iv) वर्टेड स्पिनिंग मिल्स, लाडनू

मालपुरा एवं टोंक में भी नमदे, आसन, घुग्घियाँ, चकमें आदि बनाए जाते हैं। यहाँ के नमदे देशविदेश में प्रसिद्ध हैं। भीलवाड़ा में एक प्रोसेसिंग हाउस का निर्माण हुआ है जिसकी प्रोसेसिंग क्षमता 6 लाख कम्बल प्रतिवर्ष है।

भारत की जनगणना 2011 (India Census 2011) || India Gk Mock Test || Mock Test || MockTime || Mock Time || OnlineTyari India Census Online Test || SSC || IBPS || RPSC





1जनगणना 2011 के अनुसार सबसे ज्यादा साक्षरता किस राज्य की है ?

A. लक्षदीप
B. केरल
C. महाराष्ट्र
D. मिजोरम

(B) केरल




2किस राज्य में साक्षरता सबसे कम है ?

A. राजस्थान
B. उड़ीसा
C. बिहार
D. अरूणाचल प्रदेश

(C) बिहार




3भारत में 2001 से 2011 में साक्षरता दर में कितने प्रतिशत की वृद्धि हुई है ?

A. 8.2 %
B. 3.9 %
C. 6.8 %
D. 11.2 %

(A) 8.2 %




4वर्तमान में प्रति 1000 पुरूषों के मुकाबले महिलाओं की संख्या कितनी हो गई है ?

A. 900
B. 841
C. 943
D. 933

(C) 943




5 भारत में बाल (0-6 आयु वर्ग) लिंगानुपात क्या हो गया है ?

A. 1000:927
B. 1000:919
C. 1000:830
D. 1000:970

(B) 1000:919




6केरल में प्रति हजार पुरूषों के मुकाबले महिलाओं की संख्या कितनी है ?

A. 1038
B. 971
C. 950
D. 1084

(D) 1084




7सबसे कम लिंगानुपात कहां पर है ?

A. दमन व दीव
B. हरियाणा
C. दादरा व नगर हवेली
D. पंजाब

(A) दमन व दीव




8 सबसे कम लिंगानुपात वाला राज्य कौनसा है ?

A. बिहार
B. हरियाणा
C. पंजाब
D. राजस्थान

(B) हरियाणा




9किस राज्य की जनसंख्या वृद्धि दर 2001-2011 में ऋणात्मक थी ?

A. गोवा
B. राजस्थान
C. नागालेण्ड
D. मिजोरम

(C) नागालेण्ड




10सबसे ज्यादा जनसंख्या घनत्व वाला क्षेत्र कौनसा है ?

A. राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली
B. महाराष्ट्र
C. उतर प्रदेश
D. चंडीगढ

(A) राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली


Rajasthan Gk Mock Test - 2 || MockTime || Mock Time || OnlineTyari Free Online Test || Free Online Mock Test || SSC || IBPS || RPSC







1राजस्थान में 1857 की क्रान्ति का सूत्रपात कब हुआ ?

A. 29 मार्च 1857
B. 31 मई 1857
C. 28 मई 1857
D. 01 जुलाई 1857

(C) 28 मई 1857




2 1857 की क्रान्ति के समय राजस्थान में कितनी सैनिक छावनियां थी ?

A. 7
B. 8
C. 6
D. 9

(C) 6




31857 की क्रान्ति के समय राजस्थान में ए.जी.जी. थे ?

A. मैकमोसन
B. पेट्रिक लाॅरेन्स
C. कर्नल ईडन
D. मेजर बर्टन

(B) पेट्रिक लाॅरेन्स




4 1857 की क्रान्ति का राजस्थान में सबसे भीषण विप्लव कहां पर हुआ ?

A. कोटा
B. जोधपुर
C. जैसलमेर
D. नसीराबाद

(A) कोटा




5 किस छावनी के सैनिकों ने विद्रोह के पश्चात ‘चलो दिल्ली मारो फिरंगी‘ का नारा दिया ?

A. नसीराबाद
B. देवली
C. एरिनपुरा
D. नीमच

(C) एरिनपुरा




6राष्ट्रीय क्रान्तिकारी जिन्होने राजस्थान में 1857 की क्रान्ति को आगे बढाया ?

A. कुंवर सिंह
B. झांसी की रानी
C. तांत्या टोपे
D. अजीमुल्ला

(C) तांत्या टोपे




7किन छावनियों ने 1857 की क्रान्ति में प्रत्यक्ष भाग नहीं लिया ?

A. नीमच व खैरवाड़ा
B. नसीराबाद व लाखर
C. देवली व खैरवाड़ा
D. ब्यावर व खैरवाड़ा

(D) ब्यावर व खैरवाड़ा




8 कोटा का विद्रोह किस रियासत की सेना की सहायता से दबाया गया ?

A. भरतपुर
B. जयपुर
C. करौली
D. जोधपुर

(C) करौली




9राजस्थान में 1857 की क्रान्ति का सूत्रपात करने वाली सैनिक छावनी थी ?

A. मेरठ की छावनी
B. नीमच की छावनी
C. एरिनपुरा की छावनी
D. नसीराबाद की छावनी

(D) नसीराबाद की छावनी




10 आउआ के ठाकुर जिन्होने 1857 की क्रान्ति के समय क्रान्तिकारियों का नेतृत्व किया ?

A. कुंपसिंह चम्पावत
B. ठाकुर कमलसिंह चम्पावत
C. कुशाल सिंह चम्पावत
D. तख्त सिंह चम्पावत

(C) कुशाल सिंह चम्पावत


Rajasthan Gk Mock Test - 1 || MockTime || Mock Time || OnlineTyari Free Online Test || Free Online Mock Test







1आबू के किस परमार शासक को परमारों के मरूमण्डल का महाराज कहा जाता है ?

A. कुमारपाल
B. सिद्धराज
C. नरेन्द्र
D. शंकर वर्मन

(B) सिद्धराज




2सांगा ने किस स्थान को अधिकार में लेकर सांगानेर बसाया था ?

A. अलेमपुर
B. फतेहाबाद
C. मोजमाबाद
D. खिज्राबाद

(C) मोजमाबाद




31309 ई. में अलाउद्धीन खिलजी ने जालौर के किस शासक को पराजित किया था ?

A. हम्मीर देव
B. कान्हड़ देव
C. रतन सिंह
D. शीतल देव

(B) कान्हड़ देव




4दिलवाड़ा में आदिनाथ मंदिर का निर्माण करवाया था ?

A. विमल शाह
B. शंकरपाल
C. तेजपाल
D. वस्तुपाल

(A) विमल शाह




5वह कछवाहा शासक कौन था जिसने मेवाड़ के महाराणा सांगा के साथ मिलकर बाबर से लड़ाई की थी ?

A. भारमल
B. भीमसेन
C. पृथ्वीराज
D. जयसिंह

(C) पृथ्वीराज




6निम्न में से कौन सा क्रान्तिकारी नेता राजस्थान का नहीं है ?

A. प्रतापसिंह बारहठ
B. गणेश देवस्कर
C. रामनारायण चैधरी
D. अर्जुनलाल सेठी

(B) गणेश देवस्कर




7महाराणा प्रताप की मृत्यु किस स्थान पर हुई थी ?

A. चावण्ड में
B. उदयपुर में
C. कुम्भलगढ में
D. चितौड़गढ में

(A) चावण्ड में




8 किस शासक को फारसी इतिहासकारों ने हरामत वाला शासक कहा है ?

A. भारमल को
B. मालदेव को
C. मानसिंह को
D. राणा हम्मीरदेव को

(B) मालदेव को




9‘‘एक मुठ्ठी भर बाजरे की खातिर मैं हिन्दुस्थान की बादशाहत खो देता‘‘ एसा किस शासक ने कहा है ?

A. हुमायूं ने
B. बाबर ने
C. शेरशाह ने
D. अकबर ने

(C) शेरशाह ने




10भारमल ने अपनी पुत्री जोधाबाई का विवाह अकबर के साथ कब किया ?

A. 1565 ई. में
B. 1562 ई. में
C. 1567 ई. में
D. 1560 ई. में

(B) 1562 ई. में


भारतीय संविधान के सभी महत्वपूर्ण अनुच्छेद (All the important paragraphs of the Indian Constitution) || All Anuhed Of India Sanvidhan || Bharat Ke All Anuched

भारतीय संविधान के सभी महत्वपूर्ण अनुच्छेद

अनुच्छेद 1 :- संघ का नाम और राज्य क्षेत्र
अनुच्छेद 2 :- नए राज्यों का प्रवेश या स्थापना
अनुच्छेद 3 :- राज्य का निर्माण तथा सीमाओं या नामों मे परिवर्तन
अनुच्छेद 4 :- पहली अनुसूचित व चौथी अनुसूची के संशोधन तथा दो और तीन के अधीन बनाई गई विधियां
अनुच्छेद 5 :- संविधान के प्रारंभ पर नागरिकता
अनुच्छेद 6 :- भारत आने वाले व्यक्तियों को नागरिकता
अनुच्छेद 7 :-पाकिस्तान जाने वालों को नागरिकता
अनुच्छेद 8 :- भारत के बाहर रहने वाले व्यक्तियों का नागरिकता
अनुच्छेद 9 :- विदेशी राज्य की नागरिकता लेने पर नागरिकता का ना होना
अनुच्छेद 10 :- नागरिकता के अधिकारों का बना रहना
अनुच्छेद 11 :- संसद द्वारा नागरिकता के लिए कानून का विनियमन
अनुच्छेद 12 :- राज्य की परिभाषा
अनुच्छेद 13 :- मूल अधिकारों को असंगत या अल्पीकरण करने वाली विधियां
अनुच्छेद 14 :- विधि के समक्ष समानता
अनुच्छेद 15 :- धर्म जाति लिंग पर भेद का प्रतिशेध
अनुच्छेद 16 :- लोक नियोजन में अवसर की समानता
अनुच्छेद 17 :- अस्पृश्यता का अंत
अनुच्छेद 18 :- उपाधीयों का अंत
अनुच्छेद 19 :- वाक् की स्वतंत्रता
अनुच्छेद 20 :- अपराधों के दोष सिद्धि के संबंध में संरक्षण
अनुच्छेद 21 :-प्राण और दैहिक स्वतंत्रता
अनुच्छेद 21 क :- 6 से 14 वर्ष के बच्चों को शिक्षा का अधिकार
अनुच्छेद 22 :– कुछ दशाओं में गिरफ्तारी से सरंक्षण
अनुच्छेद 23 :- मानव के दुर्व्यापार और बाल आश्रम
अनुच्छेद 24 :- कारखानों में बालक का नियोजन का प्रतिशत
अनुच्छेद 25 :- धर्म का आचरण और प्रचार की स्वतंत्रता
अनुच्छेद 26 :-धार्मिक कार्यों के प्रबंध की स्वतंत्रता
अनुच्छेद 29 :- अल्पसंख्यक वर्गों के हितों का संरक्षण
अनुच्छेद 30 :- शिक्षा संस्थाओं की स्थापना और प्रशासन करने का अल्पसंख्यक वर्गो का अधिकार



अनुच्छेद 32 :- अधिकारों को प्रवर्तित कराने के लिए उपचार
अनुच्छेद 36 :- परिभाषा
अनुच्छेद 40 :- ग्राम पंचायतों का संगठन
अनुच्छेद 48 :- कृषि और पशुपालन संगठन
अनुच्छेद 48 क :- पर्यावरण वन तथा वन्य जीवों की रक्षा
अनुच्छेद 49 :- राष्ट्रीय स्मारक स्थानों और वस्तुओं का संरक्षण
अनुच्छेद 50 :- कार्यपालिका से न्यायपालिका का प्रथक्करण
अनुच्छेद 51 :- अंतर्राष्ट्रीय शांति और सुरक्षा
अनुच्छेद 51 क :- मूल कर्तव्य
अनुच्छेद 52 :- भारत का राष्ट्रपति
अनुच्छेद 53 :- संघ की कार्यपालिका शक्ति
अनुच्छेद 54 :- राष्ट्रपति का निर्वाचन
अनुच्छेद 55 :- राष्ट्रपति के निर्वाचन की रीती
अनुच्छेद 56 :- राष्ट्रपति की पदावधि
अनुच्छेद 57 :- पुनर्निर्वाचन के लिए पात्रता
अनुच्छेद 58 :- राष्ट्रपति निर्वाचित होने के लिए आहर्ताए
अनुच्छेद 59 :- राष्ट्रपति पद के लिए शर्ते
अनुच्छेद 60 :- राष्ट्रपति की शपथ
अनुच्छेद 61 :- राष्ट्रपति पर महाभियोग चलाने की प्रक्रिया
अनुच्छेद 62 :- राष्ट्रपति पद पर व्यक्ति को भरने के लिए निर्वाचन का समय और रीतियां
अनुच्छेद 63 :- भारत का उपराष्ट्रपति
अनुच्छेद 64 :- उपराष्ट्रपति का राज्यसभा का पदेन सभापति होना
अनुच्छेद 65 :- राष्ट्रपति के पद की रिक्त पर उप राष्ट्रपति के कार्य
अनुच्छेद 66 :- उप-राष्ट्रपति का निर्वाचन
अनुच्छेद 67 :- उपराष्ट्रपति की पदावधि
अनुच्छेद 68 :- उप राष्ट्रपति के पद की रिक्त पद भरने के लिए निर्वाचन
अनुच्छेद 69 :- उप राष्ट्रपति द्वारा शपथ
अनुच्छेद 70 :- अन्य आकस्मिकता में राष्ट्रपति के कर्तव्यों का निर्वहन
अनुच्छेद 71. :- राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के निर्वाचन संबंधित विषय
अनुच्छेद 72 :-क्षमादान की शक्ति
अनुच्छेद 73 :- संघ की कार्यपालिका शक्ति का विस्तार
अनुच्छेद 74 :- राष्ट्रपति को सलाह देने के लिए मंत्रिपरिषद
अनुच्छेद 75 :- मंत्रियों के बारे में उपबंध
अनुच्छेद 76 :- भारत का महान्यायवादी
अनुच्छेद 77 :- भारत सरकार के कार्य का संचालन
अनुच्छेद 78 :- राष्ट्रपति को जानकारी देने के प्रधानमंत्री के कर्तव्य
अनुच्छेद 79 :- संसद का गठन
अनुच्छेद 80 :- राज्य सभा की सरंचना
अनुच्छेद 81 :- लोकसभा की संरचना
अनुच्छेद 83 :- संसद के सदनो की अवधि
अनुच्छेद 84 :-संसद के सदस्यों के लिए अहर्ता
अनुच्छेद 85 :- संसद का सत्र सत्रावसान और विघटन
अनुच्छेद 87 :- राष्ट्रपति का विशेष अभी भाषण
अनुच्छेद 88 :- सदनों के बारे में मंत्रियों और महानयायवादी अधिकार
अनुच्छेद 89 :-राज्यसभा का सभापति और उपसभापति
अनुच्छेद 90 :- उपसभापति का पद रिक्त होना या पद हटाया जाना
अनुच्छेद 91 :-सभापति के कर्तव्यों का पालन और शक्ति
अनुच्छेद 92 :- सभापति या उपसभापति को पद से हटाने का संकल्प विचाराधीन हो तब उसका पीठासीन ना होना
अनुच्छेद 93 :- लोकसभा
अनुच्छेद 93 :- लोकसभा का अध्यक्ष और उपाध्यक्ष
अनुच्छेद 94 :- अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का पद रिक्त होना
अनुच्छेद 95 :- अध्यक्ष में कर्तव्य एवं शक्तियां
अनुच्छेद 96 :- अध्यक्ष उपाध्यक्ष को पद से हटाने का संकल्प हो तब उसका पीठासीन ना होना
अनुच्छेद 97 :- सभापति उपसभापति तथा अध्यक्ष,उपाध्यक्ष के वेतन और भत्ते
अनुच्छेद 98 :- संसद का सविचालय
अनुच्छेद 99 :- सदस्य द्वारा शपथ या प्रतिज्ञान
अनुच्छेद 100 :- संसाधनों में मतदान रिक्तियां के होते हुए भी सदनों के कार्य करने की शक्ति और गणपूर्ति
अनुच्छेद 108 :- कुछ दशाओं में दोनों सदनों की संयुक्त बैठक
अनुच्छेद 109 :- धन विधेयक के संबंध में विशेष प्रक्रिया
अनुच्छेद 110 :- धन विधायक की परिभाषा
अनुच्छेद 111 :- विधेयकों पर अनुमति
अनुच्छेद 112 :- वार्षिक वित्तीय विवरण
अनुच्छेद 118 :- प्रक्रिया के नियम
 अनुच्छेद 119 :- संसद में वित्तीय कार्य संबंधी प्रक्रिया का विधि द्वारा विनिमय
अनुच्छेद 120 :- संसद में प्रयोग की जाने वाली भाषा
अनुच्छेद 121:- संसद में चर्चा पर निर्बंधन 
अनुच्छेद 122 :-  न्यायालयों द्वारा संसद की कार्यवाहियों की जांच ना किया जाना
अनुच्छेद 123 :- संसद विश्रांति काल में अध्यादेश प्रख्यापित करने की राष्ट्रपति की शक्ति
अनुच्छेद 124 :- उच्चतम न्यायालय की स्थापना और गठन
अनुच्छेद 125 :- न्यायाधीशों का वेतन
अनुच्छेद 126 :- कार्यकारी मुख्य न्यायमूर्ति की नियुक्ति
अनुच्छेद 127 :- तदर्थ न्यायमूर्तियों की नियुक्ति
अनुच्छेद 128 :- सेवानिवृत्त न्यायाधीशों की उपस्थिति
अनुच्छेद 129 :- उच्चतम न्यायालय का अभिलेख न्यायालय होना
अनुच्छेद 130 :- उच्चतम न्यायालय का स्थान
अनुच्छेद 131 :- उच्चतम न्यायालय की आरंभिक अधिकारिता
अनुच्छेद 132 :- उच्च न्यायालयों से अपीलों में उच्चतम न्यायालय की अपीली अधिकारिता
अनुच्छेद 133 :-  उच्च न्यायालयों से सिविल विषयों से संबंधित अपीलों में उच्चतम न्यायालय के अपीली अधिकारिता
अनुच्छेद 134:-  दांडिक विषयों में उच्चतम न्यायालय की अपीली अधिकारिता 
अनुच्छेद 134क :- उच्चतम न्यायालय में अपील के लिए प्रमाणपत्र 
अनुच्छेद 135 :-  विद्यमान विधि के अधीन फेडरल न्यायालय की अधिकारिता और शक्तियों का उच्चतम न्यायालय द्वारा प्रयोक्ततव्य होना 
अनुच्छेद 136 :- अपील के लिए उच्चतम न्यायालय की विशेष इजाजत
अनुच्छेद 137 :- निर्णय एवं आदेशों का पुनर्विलोकन 
अनुच्छेद 138 :- उच्चतम न्यायालय की अधिकारिता की वृद्धि 
अनुच्छेद 139 :- रिट निकालने की शक्तियों का उच्चतम न्यायालय को प्रदत्त किया जाना अनुच्छेद 139 :- कुछ मामलों का अंतरण 
अनुच्छेद 140:- उच्चतम न्यायालय की आनुषंगिक शक्तियां



अनुच्छेद 141:- उच्चतम न्यायालय द्वारा घोषित विधि का सभी न्यायालयों पर  आबद्धकर होना
अनुच्छेद 142:- उच्चतम न्यायालय की डिक्रीयों और आदेशों का प्रवर्तन और प्रगटीकरण आदि के बारे में आदेश
अनुच्छेद 143 :- उच्चतम न्यायालय से परामर्श करने की राष्ट्रपति की शक्ति
अनुच्छेद144 :-सिविल एवं न्यायिक पदाधिकारियों द्वारा उच्चतम न्यायालय की सहायता में कार्य किया जाना 
अनुच्छेद 145 :- न्यायालय के नियम आदि 
अनुच्छेद 146:- उच्चतम न्यायालय के अधिकारी और सेवक तथा व्यय 
अनुच्छेद 147 :- निर्वचन



अनुच्छेद 148 :- भारत का नियंत्रक महालेखा परीक्षक
अनुच्छेद 149 :- नियंत्रक महालेखा परीक्षक के कर्तव्य और शक्तिया
अनुच्छेद 150 :- संघ के राज्यों के लेखन का प्रारूप 
अनुच्छेद 151:-  संपरीक्षा प्रतिवेदन 
अनुच्छेद 152 :- परिभाषा
अनुच्छेद 153 :- राज्यों के राज्यपाल
अनुच्छेद 154 :- राज्य की कार्यपालिका शक्ति
अनुच्छेद 155 :- राज्यपाल की नियुक्ति
अनुच्छेद 156 :- राज्यपाल की पदावधि
अनुच्छेद 157 :- राज्यपाल नियुक्त होने की अर्हताएँ
अनुच्छेद 158 :- राज्यपाल के पद के लिए शर्तें
अनुच्छेद 159 :- राज्यपाल द्वारा शपथ या प्रतिज्ञान
अनुच्छेद 163 :- राज्यपाल को सलाह देने के लिए मंत्री परिषद
अनुच्छेद 164 :- मंत्रियों के बारे में अन्य उपबंध
अनुच्छेद 165 :- राज्य का महाधिवक्ता
अनुच्छेद 166 :- राज्य सरकार का संचालन
अनुच्छेद 167 :- राज्यपाल को जानकारी देने के संबंध में मुख्यमंत्री के कर्तव्य
अनुच्छेद 168 :- राज्य के विधान मंडल का गठन
अनुच्छेद 170 :- विधानसभाओं की संरचना
अनुच्छेद 171 :- विधान परिषद की संरचना
अनुच्छेद 172 :- राज्यों के विधानमंडल कि अवधी
अनुच्छेद 176 :- राज्यपाल का विशेष अभिभाषण
अनुच्छेद 177 सदनों के बारे में मंत्रियों और महाधिवक्ता के अधिकार
अनुच्छेद 178 :- विधानसभा का अध्यक्ष और उपाध्यक्ष
अनुच्छेद 179 :- अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का पद रिक्त होना या पद से हटाया जाना
अनुच्छेद 180 :- अध्यक्ष के पदों के कार्य व शक्ति
अनुच्छेद 181 :- अध्यक्ष उपाध्यक्ष को पद से हटाने का कोई संकल्प पारित होने पर उसका पिठासिन ना होना
अनुच्छेद 182 :- विधान परिषद का सभापति और उपसभापति
अनुच्छेद 183 :- सभापति और उपासभापति का पद रिक्त होना पद त्याग या पद से हटाया जाना
अनुच्छेद 184 :- सभापति के पद के कर्तव्यों का पालन व शक्ति
अनुच्छेद 185 :- संभापति उपसभापति को पद से हटाए जाने का संकल्प विचाराधीन होने पर उसका पीठासीन ना होना
अनुच्छेद 186 :- अध्यक्ष उपाध्यक्ष सभापति और उपसभापति के वेतन और भत्ते
अनुच्छेद 187 :- राज्य के विधान मंडल का सविचाल.
अनुच्छेद 188 :- सदस्यों द्वारा शपथ या प्रतिज्ञान
अनुच्छेद 189 :- सदनों में मतदान रिक्तियां होते हुए भी साधनों का कार्य करने की शक्ति और गणपूर्ति
अनुच्छेद 199 :- धन विदेश की परिभाषा
अनुच्छेद 200 :- विधायकों पर अनुमति
अनुच्छेद 202 :- वार्षिक वित्तीय विवरण
अनुच्छेद 213 :- विधानमंडल में अध्यादेश सत्यापित करने के राज्यपाल की शक्ति
अनुच्छेद 214 :- राज्यों के लिए उच्च न्यायालय
अनुच्छेद 215 :- उच्च न्यायालयों का अभिलेख न्यायालय होना
अनुच्छेद 216 :- उच्च न्यायालय का गठन
अनुच्छेद 217 :- उच्च न्यायालय न्यायाधीश की नियुक्ति पद्धति शर्तें
अनुच्छेद 221 :- न्यायाधीशों का वेतन
अनुच्छेद 222 :- एक न्यायालय से दूसरे न्यायालय में न्यायाधीशों का अंतरण
अनुच्छेद 223 :- कार्यकारी मुख्य न्याय मूर्ति के नियुक्ति
अनुच्छेद 224 :- अन्य न्यायाधीशों की नियुक्ति
अनुच्छेद 226 :- कुछ रिट निकालने के लिए उच्च न्यायालय की शक्ति
अनुच्छेद 231 :- दो या अधिक राज्यों के लिए एक ही उच्च न्यायालय की स्थापना
अनुच्छेद 233 


अनुच्छेद 241 :- संघ राज्य क्षेत्र के लिए उच्च-न्यायालय
अनुच्छेद 243 :- पंचायत नगर पालिकाएं एवं सहकारी समितियां
अनुच्छेद 244 :- अनुसूचित क्षेत्रो व जनजाति क्षेत्रों का प्रशासन
अनुच्छेद 248 :- अवशिष्ट विधाई शक्तियां
अनुच्छेद 252 :- दो या अधिक राज्य के लिए सहमति से विधि बनाने की संसद की शक्ति
अनुच्छेद 254 :- संसद द्वारा बनाई गई विधियों और राज्यों के विधान मंडल द्वारा बनाए गए विधियों में असंगति
अनुच्छेद 256 :- राज्यों की और संघ की बाध्यता
अनुच्छेद 257 :- कुछ दशाओं में राज्यों पर संघ का नियंत्रण
अनुच्छेद 262 :- अंतर्राज्यक नदियों या नदी दूनों के जल संबंधी विवादों का न्याय निर्णय
अनुच्छेद 263 :- अंतर्राज्यीय विकास परिषद का गठन
अनुच्छेद 266 :- संचित निधी
अनुच्छेद 267 :- आकस्मिकता निधि
अनुच्छेद 269 :- संघ द्वारा उद्ग्रहित और संग्रहित किंतु राज्यों को सौपे जाने वाले कर
अनुच्छेद 270 :- संघ द्वारा इकट्ठे किए कर संघ और राज्यों के बीच वितरित किए जाने वाले कर
अनुच्छेद 280 :- वित्त आयोग
अनुच्छेद 281 :- वित्त आयोग की सिफारिशे
अनुच्छेद 292 :- भारत सरकार द्वारा उधार लेना
अनुच्छेद 293 :- राज्य द्वारा उधार लेना
अनुच्छेद 300 क :- संपत्ति का अधिकार
अनुच्छेद 301 :- व्यापार वाणिज्य और समागम की स्वतंत्रता
अनुच्छेद 309 :- राज्य की सेवा करने वाले व्यक्तियों की भर्ती और सेवा की शर्तों
अनुच्छेद 310 :- संघ या राज्य की सेवा करने वाले व्यक्तियों की पदावधि
अनुच्छेद 313 :- संक्रमण कालीन उपबंध
अनुच्छेद 315 :- संघ राज्य के लिए लोक सेवा आयोग
अनुच्छेद 316 :- सदस्यों की नियुक्ति एवं पदावधि
अनुच्छेद 317 :- लोक सेवा आयोग के किसी सदस्य को हटाया जाना या निलंबित किया जाना
अनुच्छेद 320 :- लोकसेवा आयोग के कृत्य
अनुच्छेद 323 क :- प्रशासनिक अधिकरण
अनुच्छेद 323 ख :- अन्य विषयों के लिए अधिकरण
अनुच्छेद 324 :- निर्वाचनो के अधिक्षण निर्देशन और नियंत्रण का निर्वाचन आयोग में निहित होना
अनुच्छेद 329 :- निर्वाचन संबंधी मामलों में न्यायालय के हस्तक्षेप का वर्णन
अनुच्छेद 330 :– लोक सभा में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लिये स्थानो का आरणण
अनुच्छेद 331 :- लोक सभा में आंग्ल भारतीय समुदाय का प्रतिनिधित्व
अनुच्छेद 332 :- राज्य के विधान सभा में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजातियों के लिए स्थानों का आरक्षण
अनुच्छेद 333 :- राज्य की विधानसभा में आंग्ल भारतीय समुदाय का प्रतिनिधित्व
अनुच्छेद 343 :- संघ की परिभाषा
अनुच्छेद 344 :- राजभाषा के संबंध में आयोग और संसद की समिति
अनुच्छेद 350 क :- प्राथमिक स्तर पर मातृभाषा में शिक्षा की सुविधाएं
अनुच्छेद 351 :- हिंदी भाषा के विकास के लिए निर्देश
अनुच्छेद 352 :- आपात की उदघोषणा का प्रभाव
अनुच्छेद 356 :- राज्य में संवैधानिक तंत्र के विफल हो जाने की दशा में उपबंध
अनुच्छेद 360 :- वित्तीय आपात के बारे में उपबंध
अनुच्छेद 368 :- सविधान का संशोधन करने की संसद की शक्ति और उसकी प्रक्रिया
अनुच्छेद 377 :- भारत के नियंत्रक महालेखा परीक्षक के बारे में उपबंध
अनुच्छेद 378 :- लोक सेवा आयोग के बारे में उपबन्ध
 अनुच्छेद 378क :- आंध्र प्रदेश  विधान सभा की अवधि के बारे में विशेष उपबंध 
अनुच्छेद 392 :- कठिनाइयों को दूर करने की राष्ट्रपति की शक्ति अनुच्छेद 394क :- हिंदी भाषा में प्राधिकृत पाठ



सौर मंडल–सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तर (Solar system-general knowledge quiz) || Sor Mandal All Question For Exams || Sour Mandal GK Question For Exams

सौर मंडल–सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तर

● सौरमंडल में कुल कितने ग्रह हैं— 8 
● सूर्य के चारों ओर घूमने वाले पिंड को क्या कहते हैं— ग्रह 
● किसी ग्रह के चारों ओर घूमने वाले पिंड को क्या कहते हैं— उपग्रह 
● ग्रहों की गति के नियम का पता किसने लगाया— केपलर 
● अंतरिक्ष में कुल कितने तारा मंडल हैं— 89 
● सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह कौन-सा है— बृहस्पति 
● सौरमंडल का जन्मदाता किसे कहा जाता है— सूर्य को 
● कौन-से ग्रह सूर्य के चारों ओर दक्षिणावर्त घूमते हैं— शुक्र व अरुण 
● ‘निक्स ओलंपिया कोलंपस पर्वत’ किस ग्रह पर है— मंगल 
● ब्रह्मांड में विस्फोटी तारा क्या कहलाता है— अभिनव तारा 
● सौरमंडल की खोज किसने की— कॉपरनिकस 
● प्राचीन भारतीय सूर्य को क्या मानते थे— ग्रह 
● सूर्य कौन-सी गैस का गोला है— हाइड्रोजन व हीलियम 
● सूर्य के मध्य भाग को क्या कहते हैं— प्रकाश मंडल 
● किस देश र्में अरात्रि को सूर्य दिखाई देता है— नॉर्वे 
● सूर्य से ग्रह की दूरी को क्या कहा जाता है— उपसौर 
● सूर्य के धरातल का तापमान लगभग कितना है— 6000°C
● मध्य रात्रि का सूर्य किस क्षेत्र में दिखाई देता है— आर्कटिक क्षेत्र में 
● सूर्य के रासायनिक संगठन में हाइड्रोजन का % कितना है— 71%
● कौन-सा ग्रह सूर्य के सबसे निकट है— बुध 
● बुध ग्रह सूर्य का एक चक्कर लगाने में कितना समय लेता है— 88 दिन 
● सूर्य से सबसे दूर कौन-सा ग्रह है— वरुण 
● कौन-से ग्रह जिनके उपग्रह नहीं हैं— बुध व शुक्र 
● कौन-सा ग्रह सूर्य का चक्कर सबसे कम समय में लगाता है— बुध 
● किस ग्रह को पृथ्वी की बहन कहा जाता है— शुक्र 
● किस ग्रह पर जीव रहते हैं— पृथ्वी 
● पृथ्वी का उपग्रह कौन है— चंद्रमा 
● पृथ्वी अपने अक्ष पर एक चक्कर कितने दिन में लगाती है— 365 दिन 5 घंटा 48 मिनटर 46 सेकेंड 
● पृथ्वी को नीला ग्रह क्यो कहा जाता है— जल की उपस्थिति के कारण 
● किस उपग्रह को जीवाश्म ग्रह कहा जाता है— चंद्रमा को 
● चंद्रमा क्या है— उपग्रह 
● पृथ्वी से चन्द्रमा का कितना भाग देख सकते हैं— 57% 
● उत्तरी गोलार्द्ध में सबसे बड़ा दिन कौन-सा है— 21 जून 
● किस तिथि को रात-दिन बराबर होते हैं— 21 मार्च व 22 सितंबर 
● सूर्य द्वारा ऊर्जा देते रहने का समय कितना है— 1011 वर्ष 
● सौरमंडल का सबसे बड़ा ज्वालामुखी कौन-सा है— ओलिपस मेसी 
● अरुण ग्रह की खोज कब हुई— 1781 ई. 
● पृथ्वी द्वारा सूर्य की एक परिक्रमा को क्या कहते हैं— सौर वर्ष 
● पृथ्वी पर ऋतु परिवर्तन का क्या कारण है— अक्ष पर झुकी होने के कारण 
● प्लूटो ग्रह की मान्यता कब समाप्त की गई— 24 अगस्त, 2006 को 
● चंद्रमा पृथ्वी की एक परिक्रमा कितने समय में लगाता है— 27 दिन 8 घंटा 
● ज्वार भाटा की स्थिति में सबसे अधिक प्रभाव किसका होता है— चंद्रमा का
● ज्वार भाटा किसके कारण आता है— सूर्य व चंद्रमा के अपकेंद्र व आकर्षण बल के कारण 
● चंद्र ग्रहण कब होता है— पूर्णिमा को 
● सूर्य ग्रहण कब होता है— अमावस्या को 
● कौन-सा खगोलीय पिंड ‘रात की रानी’ कहा जाता है— चंद्रमा 
● नंगी आँखों द्वारा किस ग्रह को देख सकते हैं— शनि ग्रह 
● यूरेनस की खोज किसने की— हर्शेल ने 
● सूर्य ग्रहण का क्या कारण है— चंद्रमा के सूर्य और पृथ्वी के बीच आ जाने के कारण सूर्य का दिखाई न देना 
● चंद ग्रहण कैसे होता है— जब पृथ्वी, सूर्य और चंद्रमा के बीच आ जाती है तो पृथ्वी की छाया चंद्रमा पर पड़ती है जिससे चंद्रमा दिखाई नहीं देता है
● ‘सौंदर्य का देव’ किस ग्रह को कहा जाता है— शुक्र ग्रह को 
● पृथ्वी सूर्य से सबसे अधिक दूर कब होती है— 4 जुलाई को 
● पृथ्वी सूर्य के सबसे निकट कब होती है— 3 जनवरी 
● पृथ्वी अपने अक्ष पर किस दिशा में घूमती है— पश्चिम से पूर्व की ओर 
● रात व दिन होने का क्या कारण है— पृथ्वी का अपने अक्ष पर घूमना 
● भू-कक्ष तल पर भू-अक्ष का झुकाव कितना होता है— 66 1/2°
● सूर्य सौरमंडल का केंद्र है और पृथ्वी सूर्य के चारों ओर घूमती है, यह पता सर्वप्रथम किसने लगाया— कॉपरनिकस 
● सर्वप्रथम पृथ्वी की त्रिज्या किस वैज्ञानिक ने मापी— इरैटोस्थनीज 
● पृथ्वी की तरह किस ग्रह पर जीवन की संभावना है— मंगल ग्रह 
● बृहस्पति ग्रह की खोज किस वैज्ञानिक ने की— गैलीलियो 
● कौन-सा ग्रह हरा प्रकाश उत्सर्जित करता है— वरूण 
● ‘सी ऑफ ट्रंक्विलिटी’ कहाँ स्थित है— चंद्रमा पर 
● चंद्रमा के प्रकाश को पृथ्वी तक पहुँचने में कितलर समय लगता है— 2 सेकेंड से कम 
● किस आकाशीय पिंड को ‘पृथ्वी पुत्र’ कहा जाता है— चंद्रमा 
● हैली घूमकेतू का आवर्त काल कितना है— 76 वर्ष 
● मंगल और बृहस्पति ग्रहों के मध्य सूर्य की परिक्रमा करने वाले पिंडों को क्या कहते हैं— क्षुद्रग्रह 
● पूर्ण सूर्य ग्रहण के समय सूर्य का कौन-सा भाग दिखाई देता है— किरीट