द्रव के बहने का अविरतता सिद्धान्त (Avirtta principle of flowing fluid) || Drav Ke Bahne Ka Aviratta Sidhant || Physics Solution || Ncert Solution | Rclipse - Education Point

द्रव के बहने का अविरतता सिद्धान्त (Avirtta principle of flowing fluid) || Drav Ke Bahne Ka Aviratta Sidhant || Physics Solution || Ncert Solution


द्रव के बहने का अविरतता सिद्धान्त
(Avirtta principle of flowing fluid)

द्रव के बहने का अविरतता सिद्धान्त :-
(सांतत्य समीकरण) :- 

                         किसी असमान नली से प्रवाहित अश्यान व असम्पीड्य द्रव के धारा रेखीय प्रवाह में नली के प्रत्येक स्थान पर अनुप्रस्थ काट के क्षेत्रफल तथा द्रव के वेग का गुणनफल अचर रहता है।

                          इसके अनुसार यदि नली के सिरों के क्षेत्रफल क्रमशः A1 व A2 हो तथा वेग क्रमशः V1 व V2 हो तो

A1V1 = A2V2

                        यह समीकरण तरल के प्रवाह में द्रव्यमान के संरक्षण का नियम प्रतिपादित करता है।

Rclipse Education Point

This Website Is Developed By Rclipse.Com For The Students Which Who Want To Learn Something Online.